मनुष्य जीवन की ईश्वर प्राप्ति में बाध्यता की कहानी

गुरु जी अपने शिष्य के साथ एक जंगल से गुजर रहे थे। जंगल में उन्होंने देखा कि एक झील में प्रवासी पक्षियों के झुंड किरणा कर रहे हैं।

एक शिष्य ने अपने गुरु से, गुरु      जी आप कहते हैं कि मनुष्य  होने की कई बाध्यताएं हैं और यही बाध्यताएं हममें से  READ MORE--------->>>

मनुष्य होने की यही बाध्यता हमारे प्रभु मार्ग में बाधक है यही बंधन हमें मुक्त नहीं होने देता। अगर हम इन बंधनों को तोड़ सके READ MORE ---------------->>>

हम मुक्त नहीं है। इन पक्षियों को देखो जीवन इन्हें जहां ले जाता है यह जाते हैं। जीवन की पुकार सुनते हैं। READ MORE------->>>  

मनुष्य ने अपने आप को रंगो, जातियों, भाषाओं संस्कृतियों, धर्मो भी ना जाने कितने – कितने बंधनों में बांध रखा है। READ MORE--------->>>

मनुष्य जीवन की ईश्वर प्राप्ति में बाध्यता की कहानी - पूरी कहानी पढ़ने के लिए नीचे दिए गए रीड मोर पर क्लिक करें

लाइट येलो ऐरो