Short Stories – Best अकबर – बीरबल की कहानी – stories story 1

0
421
Short Stories - Best अकबर - बीरबल की कहानी - stories story 1
Short Stories - Best अकबर - बीरबल की कहानी

Short Stories

Short Stories – Fresh अकबर – बीरबल की कहानी

नाराज बादशाह अकबर ने बेगम साहिबा को क्या हुकुम दिया?

बादशाह अकबर किसी बात पर अपनी बेगम साहिबा से नाराज हो गए थे। नाराजगी इतनी बढ़ गई थी कि उन्होंने बेगम साहिबा को उनके मायके जाने को कह दिया। पर बेगम साहिबा ने सोचा कि शायद बादशाह अकबर ने यह बात गुस्से में कह दिया होगा, इसलिए वह अपने मायके नहीं गई। short stories

जब बादशाह ने देखा कि बेगम साहिबा अभी तक अपने मायके नहीं गई है तो उन्होंने गुस्से से कहां बेगम साहिबा अभी तक आप यहीं हो, आप अपने मायके नहीं गई, सुबह होते ही आप अपने मायके चली जाना वरना आपके लिए अच्छा नहीं होगा। आप चाहे तो अपनी सबसे प्यारी चीज साथ ले जा सकती हैं। तब बेगम साहिबा सिसक कर जनानखाने में चली गई। वहाँ जाकर उन्होंने बीरबल को बुलवाया। short stories

Short Stories

बीरबल ने बेगम साहिबा को क्या सुझाव दिया?

बीरबल बेगम साहिबा के सामने पेश हो गया। बेगम साहिबा ने बीरबल को बादशाह अकबर की नाराजगी और उनके हुक्म के बारे मे भी बता दिया। तब बीरबल ने बेगम साहिबा से कहा, बेगम साहिबा अगर बादशाह अकबर ने आपको मायके जाने के लिए हुक्म दिया है। short stories

तो आपको जाना ही पड़ेगा और अपनी सबसे प्यारी चीज ले जाने की बात जैसा मैं कहता हूँ वैसा ही करें, तब बेगम साहिबा ने बीरबल के कहे मुताबिक रात में बादशाह अकबर को नींद की दवा दे दी और नींद में ही बादशाह अकबर को पालकी में डालकर अपने साथ मायके ले आई और एक कमरे में बादशाह अकबर को सुला दिया। short stories

Short Stories

अकबर - बीरबल की कहानी: बादशाह का गुस्सा और सबसे प्यारी चीज
अकबर – बीरबल की कहानी: सबसे प्यारी चीज
Short Stories
बेगम साहिबा ने क्या दिया जवाब कि बादशाह अकबर का गुस्सा फुर्र हो गया!

जब बादशाह की नींद खुली तो खुद को अनजाने जगह पर पाकर हैरान हो गए और कोई है कह कर जोर – जोर से पुकारने लगे। बादशाह अकबर की आवाज सुनकर बेगम साहिबा वहां उपस्थित हो गई।

वहाँ बेगम साहिबा को देखकर बादशाह अकबर समझ गए कि वह बेगम साहिबा के मायके में हैं और उन्होंने गुस्से से पूछा बेगम साहिबा आप हमें भी यहाँ ले आई, इतनी बड़ी गुस्ताखी कर डाली। तब बेगम साहिबा बादशाह अकबर से कहती हैं मेरे सरताज, आपने ही तो कहा था कि आप अपनी सबसे प्यारी चीज साथ ले जा सकती हैं। short stories

इसलिए आपको ले आई क्योंकि मेरे लिए सबसे प्यारी चीज आप ही हो। यह सुनकर बादशाह अकबर का गुस्सा फुर्र हो गया और मुस्कुराते हुए बोले, यह तरकीब जरूर तुम्हें बीरबल ने ही बताई होगी। बेगम साहिबा ने हामी भरते हुए सिर हिला दिया। short stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here